Crop Insurance

Crop Insurance Last Date 2023 : किसानों के पास crop insurance के लिए आखिरी मौका..! यहा देखे लिस्ट में अपना नाम, ये है प्रक्रिया

crop insurance last date in maharashtra प्रदेश सरकार 15 लाख से अधिक किसानों को फसल बीमा का लाभ देने जा रही है। इस किसान महासम्मेलन में सरकार की ओर से किसानों के लिए और भी कई योजनाओं की घोषणाएं की जा सकती है। बता दें कि ब्याज माफी योजना से प्रदेश के किसानों को राहत मिल रही है। किसान डिफाल्टर होने से बच रहे हैं और ब्याज माफी होने से केवल उन्हें मूल ऋण की राशि ही जमा करानी होगी। ऋण की मूल राशि जमा कराने के बाद वह फिर से ऋण लेने के पात्र हो जाएंगे। साथ ही उन्हें सहकारी समितियों से सस्ता खाद व बीज भी मिल सकेगा।

फसल विमा की लिस्ट देखने के लिए

यहा क्लिक करे

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का उद्देश्य प्राकृतिक आपदाओं में होने वाले फसल के नुकसान से पीड़ित किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत जनवरी 2016 में हुई थी. यह योजना बेमौसम बारिश, सूखा और अन्य प्राकृतिक अथवा स्थानीय आपदाओं की वजह से होने वाले नुकसान से बचाती है. योजना के तहत फसल बुआई से पहले, खड़ी फसल या कटाई के 14 दिन बाद तक फसलों को होने वाले नुकसान की भरपाई की जाती है.

इस दिन खाते में आएंगे प्रति हेक्टेयर 25000 हजार रुपये

यहां मोबाइल पर देखें पात्र किसानों की लिस्ट

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क्या है?

साल 2016 में शुरू हुई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आज विश्व की सबसे बड़ी फसल बीमा योजना है. इस योजना में कम से कम प्रीमियम पर अधिक से अधिक लाभ का क्लेम किया जाता है. इस योजना से जुड़ने की प्रक्रिया बहुत ही सरल है और कोई भी किसान अपनी फसल का बीमा करा सकता है. वहीं, बारिश, तापमान, पाला, नमी आदि जैसी प्राकृतिक आपदा की स्थिति में इस योजना का लाभ मिलता है.

इन खरीफ फसलों का करा सकते हैं बीमा

अनाज, दलहन और तिलहन सहित खाद्यान्न और वार्षिक बागवानी और वाणिज्यिक फसलें है. खरीफ मौसम में धान, मक्का, ज्वार, बाजरा, उड़द, मूंग, मूंगफली, तिल, सोयाबीन व अरहर जैसी फसल की बीमा कराके प्राकृतिक आपदा की वजह से फसल के नुकसान के आर्थिक बोझ को कम कर सकते हैं.

किसानों के लिए एक खुशखबरी, खेत में कुआं खोदने पर मिलेगी 4 लाख रुपये की

सब्सिडी, जल्द करें आवेदन

फसल बीमा कराने के लिए जरूरी दस्तावेज

फसल बीमा कराने के लिए किसानों के पास आधार कार्ड, बैंक पास बुक, भू-अधिकार पुस्तिका की फोटोकॉपी और फसल बुवाई का प्रमाण पत्र (सम्बन्धित पटवारी अथवा पंचायत सचिव) आदि का होना जरूरी है.

फसल बीमा का क्लेम कैसे मिलेगा?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का क्लेम लेने के लिए किसानों को फसल खराब होने की स्थिति में सबसे पहले 72 घंटे के भीतर कृषि विभाग को जानकारी देनी होती है. इसके बाद आवेदन करना होता है. फॉर्म में फसल खराब होने का कारण, कौन-सी फसल बोई गई थी, कितने क्षेत्र में फसल बर्बाद हुई हैं, इन सब बातों का ब्यौरा देना होता है. उन्हें जमीन से संबंधित जानकारी भी देनी होती है. इसके आलवा, बीमा पॉलिसी की फोटोकॉपी देनी होती है. crop insurance last date

अधिक जानकारी के लिए आप किसान कॉल सेंटर के टोल फ्री नंबर 18001801551 पर कॉल कर मदद ले सकते हैं.

ब्रेकिंग न्यूज़; आज फिर घट गए सोने-चांदी के दाम, यहां चेक करें ताजा रेट (9th October 2023)

किसान कैसे चेक करें फसल बीमा की लिस्ट में अपना नाम

अगर आप पीएम फसल बीमा योजना की लिस्ट में अपना नाम देखना चाहते हैं तो हम आपको इसका आसान तरीका बता रहे हैं। इससे आप यह पता कर पाएंगे कि आपको फसल बीमा का लाभ मिलेगा या नहीं। आप फसल बीमा की लिस्ट में अपना नाम इस तरह से चेक कर सकते हैं- crop insurance last date

  • सबसे पहले आपको फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmfby.gov.in/ पर जाना होगा।
  • यहां होम पेज पर आपको एप्लीकेशन स्टेट्स के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा। इसमें आपको रिसिप्ट नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • इसके बाद नीचे दिए गए चेक स्टेट्स के बटन को सिलेक्ट करना होगा।
  • अब आपके सामने फसल बीमा का स्टेट्स ओपन हो जाएगा।
  • इस ओपन हुए लिस्ट में आप अपना नाम देख सकते हैं। crop insurance last date
  • यदि आपका नाम इस योजना लिस्ट में होगा तो आप इसका लाभ ले सकते हैं।
  • इस प्रकार आप आसानी से फसल बीमा स्टेट्स चेक कर सकते हैं।

सिर्फ 500 रुपये में छत पर लगा सकेंगे सोलर पैनल

यहां करें ऑनलाइन आवेदन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button